Christmas लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
Christmas लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

शुक्रवार, 18 दिसंबर 2020

The Story of Christmas...Santa clause ...Marry Christmas

love of jesus 

सब कोई जानते है कि Christmas की कहानी एक छोटे बच्चे जो Jeruselam के एक छोटे-से नगर बेथलेहम में पैदा हुआ और हर कोई जानता है कि उस बच्चे का नाम यीशु था और उसकी माता का नाम मरियम था और पिता का नाम युशुफ था I

 जो क्रिसमस के वक्त चरवाहों और तीन ज्योतिषियों को दर्शाया जाता है और ये तत्व है, कुछ जानी पहचानी या फैमिलियर इस कहानी को  लेकिन इस कहानी के पीछे एक कहानी है उसको बहुत ही कम लोग समझते हैं और जानते हैं और असल कहानी वही है लेकिन आज डेकोरेशन के जश्न में और सांता क्लॉज़ की बढ़ती पॉपुलैरिटी के कारण यह बेसिक कहानी दबा के रख दिया है क्या है असली कहानी हैl 

खुदा सारी कायनात को बनाने वाला इंसान को अपने हाथों से बनाता है और उनके अंदर पाप नहीं होता मतलब कि पापरहित होता है वह पूरी तरह परफेक्ट होता है और परमेश्वर उसे परफेक्ट वातावरण में रखता है पर ये इंसान  (आदम और ह्वा) परमेश्वर की आज्ञा को तोड़कर परमेश्वर से विद्रोह करते हैं औरगुनाह में गिर जाते हैं और सारी पृथ्वी को और आने वाली नस्लों को श्रापित करते हैं आने नस्ले क्यों, क्युकि हम सब आदम की ही फोटोकॉपी हैं जो बीज आदम के अंदर था वह हम सब को विरासत में मिला है, इसलिए बाइबिल में लिखा है कि सब ने पाप किया कोई भी धर्मी नहीं है एक भी नहीं इसलिए हम सब परमेश्वर के विरोधी हैं और उसकी अदालत में अपराधी हैं खुदा को सच्चे न्यायी होने के नाते अपराध करने वालों को सजा देना जरूरी है या परमेश्वर सबको न्याय के अनुसार सजा देकर सबको हमेशा की आग में भेज सकता है क्योंकि सबने पाप किया है या फिर  प्रतिनिधि को दे सकता है जो लोगो की सजा अपने ऊपर ले कर उन्हें आजाद कर उनको रिहा कर दे इसलिए खुदा ने हम जैसे अपराधियों और गुनाहगारों के प्यार की खातिर अपने बेटे अपने इकलौते बेटे को भेज दिया कि वह इंसान बने अपने लोगों को पाप और मौत के श्राप से आजाद करें परमेश्वर खुद मनुष्य रूप धारण करता है संसार में अपने लोगों के बीच आता है और पाप रहित जीवन व्यतीत करता है क्योंकि वह पवित्र खुदा है लेकिन पापरहित होने के बावजूद भी एक अपराधी की मौत मार दिया जाता है और एक लाह्न्ति की नायी उसे क्रूस पर चढ़ाया जाता है


अगर उसको इंसान के नजरिये से देखा जाए तो बहुत ही बूरी और भयंकर बात है लेकिन आत्मिकतोर से देखा जाए तो यह इंसानो के लिए बेस्ट कार्य था तो खुदा अपने बेटे को इंसानों के लिए देता है कि वह अपराधियों विरोधियों और गुनाहगारों को अपने बेटे और बेटियां बनाएं और हमेशा की मौत से बचा ले और यही था वो कारण जिसके लिए अपने बेटे को अपने एक लोते पुत्र को इस पृथ्वी पर भेजा ये है सच्ची कहानी क्रिसमस की जिसका बहुत कम जिक्र होता है तारे, चरवाहे, ज्योतिषी, चरनी और स्वर्गदूत ! ये सब क्रिसमस नहीं हे ! असल क्रिसमस हे एक प्यार करने वाला पिता जो अपने बच्चो को बचाना चाहते है और उनको अपनी संतान बनाने चाहते है

      क्योंकि परमेश्वर ने जगत से ऐसा प्रेम रखा उसने अपना एकलौता पुत्र दे दिया जो उस पर विश्वाश करे वो नाश हो परन्तु अनंत जीवन पाए (यहूना 3:16)